Mixture of compounds || Gk questions for class 8

Mixture of compounds || Gk questions for class 8

Posted by

इस पोस्ट में आपको Mixture of compounds || Gk questions for class 8 बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है | यहाँ पर आपको Elements, Mixtures and Compounds बारे में बताया गया है | इस वेबसाइट में आपको gk in hindi, common general knowledge questions and answers, easy general knowledge questions and answers, most important questions के बारे में भी जानकारी दी गयी है |

Mixture of compounds

यौगिक (Compounds)

यौगिक वे पदार्थ है , जो दो या दो से अधिक तत्वों के निश्चित अनुपात में रासायनिक संयोग से बनते है | जैसे :- जल, NaCl, NH4Cl और Co2 आदि |

  • यौगिक दो प्रकार के होते है कार्बनिक यौगिक तथा अकार्बनिक यौगिक |

कार्बनिक यौगिकों को पुनः निम्न प्रकार में वर्गीकृत किया जा सकता है |
(a) संवृत शृंखला
(b) प्रवृत शृंखला

यौगिकों के गुण (Properties of Compounds)

  1. यौगिक के अवयवों को भौतक विधियों द्वारा पृथक नहीं किया जा सकता |
  2. यौगिक के गुण उसके अवयवी तत्वों के गुणों से भिन्न होते है |
  3. यौगिक के प्रत्येक भाग का संघटन सामान होता है , अतः यह एक समांगी द्रव्य है |
  4. यौगिक दो या दो से अधिक तत्वों के निश्चित अनुपात में रासायनिक संयोग से बनते है |
  5. यौगिकों के गलनांक तथा क्वथनांक निश्चित होते है |

मिश्रण (Mixtures)

वे द्रव्य जो दो या दो से अधिक द्रव्यों के किसी भी अनुपात में मिला देने पर बनते है, मिश्रण कहलाते है | जैसे :- वायु, दूध, स्याही, चुने का पानी, कांच, मिट्टी, केरोसिन आदि |

मिश्रण दो प्रकार के होते है |

(1) समांगी मिश्रण (Homogeneous Mixtures)
(2) विषमांगी मिश्रण (Heterogeneous Mixtures)

समांगी मिश्रण (Homogeneous Mixtures)

जिस मिश्रण के किसी भी भाग का संगठन उसके अन्य भागो के संगठन के समान होता है, उसे समांगी मिश्रण कहते है | जैसे :- चीनी विलयन, नमक का जल में विलयन, ऐल्कोहॉल और जल का मिश्रण आदि |

  • विलयन निम्न विशेषताएँ दर्शाते है :-
  1. ये पारदर्शक होते है व फ़िल्टर पत्र में प्रवाहित किए जा सकते है |
  2. ये बहुत स्थायी होते है तथा प्रकाश का प्रकीर्णन नहीं करते है | ऐसे विलयन के कणो को सूक्ष्मीदर्शी द्वारा नहीं देखा जा सकता |

Mixture of compounds || Gk questions for class 8

इस पोस्ट में आपको Mixture of compounds || Gk questions for class 8 बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है | यहाँ पर आपको Elements, Mixtures and Compounds बारे में बताया गया है | इस वेबसाइट में आपको gk in hindi, common general knowledge questions and answers, easy general knowledge questions and answers, most important questions के बारे में भी जानकारी दी गयी है |

ये भी पढ़े :-

विषमांगी मिश्रण (Heterogeneous Mixtures)

जिस मिश्रण के विभिन्न भागों का संगठन एक-दूसरे से भिन्न होता है, उसे विषमांगी मिश्रण कहते है | किसी विषमांगी मिश्रण का प्रत्येक भाग, भौतिक रूप से अलग होता है | K2Cr2O7 का जल का विलयन, CaCO3 का जल में विलयन, गन पाउडर, मिट्टी, धुँआ आदि |

  • वे विलयन जिनमे विलेय कणो का आकार 1 नैनो मीटर से 100 नैनो मीटर के मध्य होता है, कोलॉइड कहलाता है | ये विषमांगी विलयन होते है |
  • ये दो प्रावस्थाओ से युक्त होते है, जिनमे एक प्रावस्था, दूसरी प्रावस्था में विसरित रहती है | वह प्रावस्था, जो विसरित होती है , परिक्षेपित प्रावस्था कहलाती है , तथा प्रावस्था जिसमे परिक्षेपित प्रावस्था विसरित होती है, परिक्षेपण माध्यम कहलता है | (Mixture of compounds || Gk questions for class 8)
  • इनके कणो को नग्न आँखों से नहीं देखा जा सकता, परन्तु सूक्ष्मदर्शी की सहायता से देखा जा सकता है अर्थात ये टिंडल प्रभाव (Tyndall effect) दर्शाते है |
  • इनके कण सदैव टेढ़ी-मेढ़ी गति करते रहते है | इनकी यह गति ब्राउनियन गति कहलाती है | यह गति ही इन विलयनों के स्थायित्व के लिए उत्तरदायी होती है |
  • परिक्षेपित प्रावस्था तथा परिक्षेपण माध्यम के आधार पर कुल आठ प्रकार के कोलॉइडी विलयन संभव है |

मिश्रण के गुण (Properties of Mixture)

  1. मिश्रण के घटकों को सरल भौतिक विधियों (जैसे:- वाष्पन, ऊर्ध्वपातन, आसवन, चुम्बकन आदि ) पृथक किया जा सकता है | ( Mixture of compounds )
  2. मिश्रण अपने अवयवों के गुण प्रदर्शित करते है |
  3. मिश्रण बनने के समय न तो ऊर्जा उतसर्जित होती है और न ही अवशोषित होती है |
  4. मिश्रण में उसके अवयवों का कोई निश्चित अनुपात नहीं होता है |
  5. मिश्रण के क्वथनांक व गलनांक निश्चित नहीं होते | (स्थिर क्वथनांकी मिश्रणो को छोड़कर)
  • मिश्रणो के पृथककरण के लिए निम्न विधिया प्रयोग में लायी जाती है | :-

Mixture of compounds || Gk questions for class 8

इस पोस्ट में आपको Mixture of compounds || Gk questions for class 8 बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है | यहाँ पर आपको Elements, Mixtures and Compounds बारे में बताया गया है | इस वेबसाइट में आपको gk in hindi, common general knowledge questions and answers, easy general knowledge questions and answers, most important questions के बारे में भी जानकारी दी गयी है |

FOLLOW US:-

Google + :- Click Here

YouTube:- Click Here

FaceBook:- Click Here

Instagram:- Click Here

1. क्रिस्टलन (Crystallisation) :- यह विधि किसी विलायक में उपस्थित अशुद्धियों तथा कार्बनिक यौगिकों की घुलनशीलता के अंतर पर निर्भर करती है | KNO3 और NaCl का मिश्रण इस विधि द्वारा पृथक किया जाता है | अशुद्ध ठोस नमूने से शुद्ध नमूना भी इस विधि द्वारा प्राप्त किया जाता है |

2. आसवन (Disillation) :- यदि किसी द्रव में अवाष्पशील पदर्थो की अशुद्धियाँ हो, तो इस विधि का उपयोग करते है | इस विधि का उपयोग ऐसे द्रवों को पृथक करने में भी किया जाता है , जिनके क्वथनांको में 30-40*c का अंतर होता है | जैसे :- शुद्ध जल आसवन द्वारा समुद्र जल से प्राप्त किया जाता है |

3. पृथक्कारी किप द्वारा (By factionating column) :- इसका उपयोग दो अमिश्रणीय द्रवों मिश्रण को पृथक करने के लिए किया जाता है | जैसे :- मिट्टी के तेल और जल का मिश्रण तथा धातु शोधन के दौरान लोहे का पृथक्करण |

4. प्रभाजी आसवन (Fractional Disillation) :- इस विधि का उपयोग ऐसे दो वाष्पशील द्रवों के मिश्रण को पृथक करने में किया जाता है, जिनके क्वथनांक में बहुत कम अंतर होता है | जैसे :- पैट्रोल, डीजल, कैरोसिन आदि |

5. ऊर्ध्वपातन (Sublimation) :- ठोस पदार्थ को गरम करके सीधे वाष्प में बदलने अथवा वाष्प को ठण्डा करके सीधे ठोस में बदलने की क्रिया को ऊर्ध्वपातन कहते है | इस विधि का उपयोग ऐसे ठोसों के मिश्रण पृथक करने में किया जाता है , जो अवाष्पशील ठोस से ऊर्ध्वपातित हो जाते है | नौसादर, कपूर, नैफ्थलीन, आयोडीन, बेन्जोइक अम्ल आदि का पृथककरण अन्य पदार्थो से इस विधि द्वारा किया जाता है |

परन्तु दो ऊर्ध्वपातजो के मिश्रण का पृथक्करण सामान्यतः रासायनिक विधि (रसायन के प्रयोग ) द्वारा किया जाता है |

6. निर्वात आसवन (Vacuum Disillation):- इस विधि का उपयोग ऐसे द्रवों के पृथक्करण में किया जाता है , जो अपने क्वथनांक से पहले विघटित हो जाते है | जैसे :- ग्लिसरॉल इस विधि द्वारा पृथक की जाती है |

7. भाप आसवन(Steam Disillation) :- विधि का उपयोग ऐसे द्रवों के पृथक्करण व शुद्धिकरण में किया जाता है , जो पानी में अघुलनशील तथा भाप में वाष्पशील होते है | जैसे :- ०-नाइट्रोफिनॉल और p-नाइट्रोफिनॉल इस विधि द्वारा पृथक किए जाते है | ऐनिलीन भी इस विधि द्वारा शोषित की जाती है | (Mixture of compounds )

8. वाष्पन  ( Vaporisation):- किसी विलयन को प्याली में लेकर गरम करने से जल या अन्य विलायक वाष्प के रूप में पृथक हो जाते है तथा ठोस विलय शेष रह जाते है | इस विधि में विलायक पुनः प्राप्त नहीं किया जा सकता है | जैसे :- वाष्पन द्वारा नमक के विलयन से नमक प्राप्त किया जाता है |

9. क्रोमेटोग्राफी या वर्णलेखन (Chromatography) :- सन 1903 में रुसी वैज्ञानिक स्वेट ने क्रोमेटोग्राफी नामक आधुनिक विधि विकसित की | यह विधि किसी मिश्रण के विभिन्न घटको की दो प्रावस्थाओ के मध्य वितरित होने की प्रवृति के सामान्य नियम पर आधारित है | उदहारण :-

(a) यह विधि नीली और लाल डाई के पृथक्करण में प्रयोग की जाती है |
(b) यह विधि पौधे के लवण के दूसरे प्राकृतिक उत्पादों से पृथक्करण में प्रयोग की जाती है |
(c) यह विधि ०-और p-नाइट्रोफिनॉल के पृथक्करण में प्रयोग की जाती है |

10. परमानवीयकरण या एटमोलाइसिस (Atmolysis) :- इसका प्रयोग गैसों के मिश्रण को पृथक करने में किया जाता है | यह विधि इन गैसों की विसरण दर में अन्तर पर आधारित होती है |

Mixture of compounds || Gk questions for class 8

इस पोस्ट Mixture of compounds || Gk questions for class 8 को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद | यहाँ पर आपको Elements, Mixtures and Compounds बारे में बताया गया है | इस वेबसाइट में आपको gk in hindi, common general knowledge questions and answers, easy general knowledge questions and answers, most important questions, Mixture of compounds के बारे में भी जानकारी दी गयी है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *